पूर्व आईपीएस पंकज चौधरी ने प्रेसवार्ता में जताई चुनाव लड़ने की दावेदारी
March 14th, 2019 | Post by :- | 13 Views

जयपुर,(सुरेन्द्र कुमार सोनी) । आज हुई प्रेस वार्ता में राजस्थान कैडर के पूर्व आईपीएस पंकज चौधरी ने बताया कि उन्होंने वर्ष 2011 से 2018 के बीच कोटा बांसवाड़ा जैसलमेर अजमेर बूंदी दिल्ली जयपुर में सेवाएं दी है पूर्व सरकार के एक पक्षीय कार्रवाई के तहत 7 मई 2019 को सेवा से विमुख किए जाने कारण चौधरी ने कैट में अपील की केट ने राज्य सरकार और केंद्र सरकार को नोटिस भी दिया है ऐसी विषम परिस्थितियों में हिम्मत नहीं हारते हुए दबंग आईपीएस पंकज चौधरी ने संघर्ष जारी रखने का निर्णय लिया है चौधरी ने पिछले 8 वर्षों में राजस्थान के कई वरिष्ठ आईएएस आईपीएस अधिकारियों सहित भ्रष्ट देश विरोधी जनप्रतिनिधियों के कारनामे उजागर किए हैं पंकज चौधरी 2019 के लोकसभा चुनाव में पश्चिमी राजस्थान से आम जनता के बीच जा रहे हैं पंकज चौधरी पश्चिमी राजस्थान की 7 प्रमुख सीटों में से 1 सीट पर दावेदारी करेंगे चौधरी किसी बड़े वादे हुए समीकरण के साथ आम जनता के बीच न जाते हुए कुछ नीतियों व विज़न पर आम जनता के बीच जाकर कार्य करना चाहते हैं इनका मुख्य लक्ष्य न जाति न धर्म न क्षेत्र देश सर्वोपरि की भावना के अनुरूप कार्य करना है महिला सशक्तिकरण को मुख्य मुद्दा बनाकर राजस्थान में महिलाओं बालिकाओं के लिए कार्य करना है सीमा की सुरक्षा देश हित के लिए पश्चिमी राजस्थान में विशेष तौर पर कार्य करना है पश्चिमी राजस्थान के युवाओं को एक साथ लेकर चलना है गरीब पीड़ित व असहाय की पीड़ा पर तुरंत कार्यवाही पुलिस की गलत कार्यप्रणाली पर नियंत्रण अयोग्य पुलिसकर्मियों पर प्रहार ईमानदार योग्य पुलिसकर्मी व अधिकारियों का पपर्याप्त संरक्षण देना सीमा पर तस्करी विरोधी गतिविधियों पर नियंत्रण आमजन में विश्वास अपराधियों में खौफ पैदा करना पश्चिमी राजस्थान में प्रशंसनीय कार्य करने वाले व्यक्ति विशेष संस्थाओं को सम्मान देना व राष्ट्रीय मंच तैयार करना पश्चिमी राजस्थान को पर्यटन के क्षेत्र में विश्व पटल पर लाकर पर्याप्त संरक्षण देना प्रत्येक माह भ्रष्ट अयोग्य आईएएस व आईपीएस को तथ्यों साक्ष्यों के आधार पर एक्सपोज करना व संबंधित विभाग से तुरंत कार्यवाही करवाना पंकज चौधरी पश्चिम राजस्थान से बाड़मेर जैसलमेर सिरोही जालौर पाली जोधपुर नागौर बीकानेर गंगानगर हनुमानगढ़ मैं से किसी एक सीट पर लोकसभा क्षेत्र से दावेदारी कर आम जनता के बीच जाएंगे।