आज भी स्वछ पेयजल के लिए तड़प रहे गांव 11 बरानी के निवासी।पंचायत समिति प्रशासन बना मूकदर्शक।
March 14th, 2019 | Post by :- | 23 Views

श्रीगंगानगर(सतनाम मांगट)।श्रीगंगानगर के श्रीविजयनगर पंचायत समिति के गांव 11 बरानी  के लोगों को पेयजल के लिए तरसा रहे  विकास अधिकारी से लेकर ग्राम पंचायत व जल स्वास्थ्य विभाग के  अधिकारियों के कारनामें। क्योंकि जेजे वाई में पेयजल।। 21 वी सदी मे भी गांव 11 बारानी के ग्रामीण दूषित पेयजल पीने को बजबूर।विजयनगर पंचायत समिति की ग्राम पंचायत 8 बीजीडी का गांव चार बीजीएम यानी 11 बरानी के ग्रामीण आज भी 21वी सदी मे ऐसा दूषित पेयजल पीने को मजबूर है जैसा शायद भेड – बकरिया भी नही पीती है।ग्रामीण विकास समिति अध्यक्ष रेशमसिहं संधू एवं  समिति महामंत्री छगनलाल ओड ने गांव मे जाकर ग्रामीणो को मिल रहे दूषित पेयजल का निरीक्षण किया तो ग्रामीण साहब राम एवं पृथ्वीराज ने बताया की न ग्राम पंचायत सुनती है न प्रशासन सुनवाई करता है जिसके चलते ग्रामीणों को ऐसा दूषित पेयजल पीने को मजबूर है,जिससे ग्रामीण अनेको बीमारियों से ग्रस्त हो रहे है ईसके अलावा राजकीय विघालय मे भी बच्चों को पेयजल की कोई व्यवस्था नही है ग्रामीण विकास समिति के अध्यक्ष रेशमसिहं संधू ने  ग्रामीणों को शुद्ध पेयजल मुहैया करवाने की मांग तथा राजकीय विघालय मे भी बच्चों को पेयजल मुहैया करवाने की मांग एसडीएम विजयनगर से की है।ईस अवसर पर नायक महासभा अध्यक्ष नीमचदं नायक, ग्रामीण साहब राम, पृथ्वी राज, पवनकुमार, डूगराम, भूराराम, धर्मपाल, महेन्द्र कुमार, रामचंद्र, मलेशकुमार सहित ग्रामीणों उपस्थित थे।