देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी कहते थे कि दिल्ली से विकास कार्यो के लिए जारी धनराशि गांवों तक पंहुचते-पंहुचते 100 पैसे में से केवल 15 पैसे रह जाती है : धनखड़
March 4th, 2019 | Post by :- | 32 Views

चंडीगढ़, ( महिन्द्र पाल सिंहमार )      ।        हरियाणा कृषि और किसान कल्याण मंत्री श्री धनखड़ ने कहा कि देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी कहते थे कि दिल्ली से विकास कार्यो के लिए जारी धनराशि गांवों तक पंहुचते-पंहुचते 100 पैसे में से केवल 15 पैसे रह जाती है। कांग्रेस के आला नेताओं ने भ्रष्टïाचार की बात कही, कबूली लेकिन दूर नहीं की। आज देश के

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं और किसी में हिम्मत नहीं कि दिल्ली से भेजे गांवों के लिए भेजे गए पैसों में कोई भी घालमेल कर दे। पीएम मोदी ने दिल्ली से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के 240 करोड़ रूपये हरियाणा के किसानों के लिए भेजे और पूरे 240 करोड़ रूपये सीधे हमारे किसान भाईयों के बैंक खातों में पहुंच रहे हैं। प्रदेश सरकार ने काश्तकार व भूमिहीन श्रमिक भाईयों की जिनकी आदमनी 15 हजार रूपये महिने से कम है, उनको भी छह हजार रूपये प्रतिवर्ष देने का ऐतिहासिक निर्णय लिया है। कृषि मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार किसान,श्रमिक, मजूदर,जरूरतमंद,दुकानदार हितैषी है। आयुष्मान भारत और उज्जवला योजना ने जरूरतमंद की जीवन स्तर सुधारने का काम किया है।

श्री धनखड़ ने यह बात आज झज्जर जिले के कई गावों के दोंरे के दौरान कहीं
कृषि मंत्री श्री धनखड़ ने कहा कि हमारी सरकार किसान हितैषी है, पिछले साढ़े चार साल में लगभग छह हजार करोड़ रूपये सीधे किसानों को देने का काम किया गया है। फसल खराबे का मुआवजा 12 हजार रूपये प्रति एकड़ के हिसाब से लगभग 25 सौ करोड़ रूपये, फसल बीमा योजना के तहत 1140 करोड़ रूपये और अब 1320 करोड़ रूपये किसान, मजदूर, भूमिहीन श्रमिकों को देने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि बाजरे की सरकारी खरीद 19 सौ रूपये प्रति क्विंटल के भाव से की गई। अब धान और बाजरे के सरकारी भाव में कोई अंतर नही रहा । बाजरे का बाजार भाव कम होने के बावजूद सरकार ने 18 लाख टन बाजरा खरीदा। यह किसान हितैषी सोच का परिचायक है।

कृषि मंत्री श्री धनखड़ ने कहा कि दिल्ली एम्स एट बाढ़सा में राष्टï्रीय कैंसर संस्थान में चिकित्सा सेवाएं शुरू होने से बादली क्षेत्र चिकित्सा के क्षेत्र में वैश्विक पटल पर आ गया है। उन्होंने कहा कि दिसंबर 2015 में भूमि पूजन किया और तीन साल में 2035 करोड़ की लागत विकालकाय भवन तैयार सेवाएं शुरू करना अपने आप में एक रिकार्ड है। उन्होंने कहा कि बाढ़सा के आस-पास के गांवों को आरोग्य धाम के नाम से विकसित किया जा रहा है। बादली गांव को उपमंडल, तहसील और खंड का दर्जा दिया गया। लगभग दो दशक से अधूरे पड़े केएमपी एक्सप्रेस वे का निर्माण कार्य दोबारा शुरू किया और इस पर वाहन दौड़ाए।
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की बैंक खातों में पहली किस्त पंहुचने पर बादली क्षेत्र के कई गांवों के किसानों ने महाशिव रात्रि के पावन पर्व पर प्रदेश के कृषि मंत्री औम प्रकाश धनखड़ का दरियापुर में जोरदार स्वागत किया। कृषि मंत्री औम प्रकाश धनखड़ को टै्रक्टर में बैठाकर किसान ढ़ोल बाजों के साथ समारोह स्थल तक ले गए। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की पहली किस्त किसानों के बैंक खातों में पहुंच रही है। कृषि मंत्री ने कहा कि पहली किस्त के रूप में प्रदेश के किसानों के खातों में पूरे 240 करोड़ रूपये पंहुचेंगे। जिस किसान भाई फार्म नहीं भरा गया है वह कृषि विभाग में पंहुचकर योजना के तहत आवेदन करें। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को स्पष्टï आदेश हैं कि सभी पात्र किसानों को योजना का लाभ दिया जाएगा।

कृषि मंत्री ने अपने दौर के दौरान महाशिव रात्रि के पर्व की शुभकामनाएं देते हुए मुंडाखेड़ा, लगरपुर,दरियापुर, गोयला कलां, खेड़ी जट सहित कई गांवों में विकास परियोजनाओं की सौगात दी,अपना साढ़े चार साल का रिपोर्ट कार्ड ग्रामीणों के समक्ष रखा और ग्रामीणों की समस्याएं भी सुनीं । श्री धनखड़ ने मौके पर मौजूद अधिकारियों को प्राथमिकता के आधार पर समाधान के दिशा-निर्देश दिए।