साधक का साध्‍य परमेश्वर ही है :  नरेंद्र आहूजा विवेक
July 7th, 2019 | Post by :- | 19 Views

चंडीगढ़ (मनोज शर्मा) आर्य समाज सेक्टर 7 बी चंडीगढ़ में साप्ताहिक सत्संग के दौरान नरेंद्र आहूजा विवेक ने कहा कि यह शरीर ईश्वर की न्याय व्यवस्था के प्रदत साधन रूप में मनुष्य को प्राप्त हुआ है इसका प्रयोग करते हुए जीवन के उद्देश्यों को साधक रूप में उचित ढंग से करना चाहिए।  परम पिता परमेश्वर ही साध्‍य है। ईश्वर सच्चिदानन्दस्वरूप, निराकार, सर्वशक्तिमान, न्यायकारी, दयालु, अजन्मा, अनन्त, निर्विकार, अनादि, अनुपम, सर्वाधार, सर्वेश्वर, सर्वव्यापक, सर्वान्तर्यामी, अजर, अमर, अभय, नित्य, पवित्र और सृष्टिकर्ता है। प्रत्येक साधक ईश्वर के अतिरिक्त अन्य किसी भी को साध्य न समझे।