मानसून सीजन के लिए आपदा प्रबंधन प्लान रखें तैयार: डीसी कांगड़ा
June 14th, 2019 | Post by :- | 54 Views

गगन ललगोत्रा(व्यूरो कांगड़ा)

मानसून सीजन के लिए आपदा प्रबंधन प्लान रखें तैयार: डीसी
पानी की उचित निकासी हो, मौसम के पूर्वानुमान की भी देंगे जानकारी

सायरन तथा अलर्ट सिस्टम की भी हो व्यवस्था

    कांगड़ा जिला के सभी उपमंडलाधिकारियों को मानसून से पहले आपदा प्रबंधन का फुल प्रूफ प्लान तैयार करने के दिशा निर्देश दिए गए हैं इस बाबत शुक्रवार को उपायुक्त राकेश प्रजापति की अध्यक्षता में मानसून में बेहतर प्रबंधन की तैयारियों को लेकर उपायुक्त कार्यालय में बैठक आयोजित की गई।
    बैठक की अध्यक्षता करते हुए उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि सभी क्षेत्रों में पानी की उचित निकासी के प्रबंध किए जाएं इसके साथ ही बाढ़ की दृष्टि से संवेदनशील क्षेत्रों की सूची भी तैयार की जाए। उन्होंने कहा कि सभी उपमंडलाधिकारी अपने अपने क्षेत्रों में मानसून सीजन को लेकर लोगों को जागरूक करने के लिए प्लान भी तैयार करें, पंपलेंट तथा स्कूलों की प्रार्थना सभाओं के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जाए। उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि 20 जून से लेकर तीस जून तक मानसून सीजन को लेकर आवश्यक तैयारियां तथा प्लान तैयार करें और इसकी रिपोर्ट जिला स्तर पर भी भेजना सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि मौसम के पूर्वानुमान की जानकारी भी आम जनमानस तथा उपमंडल स्तर पर आपदा प्रबंधन समितियों तक पहुंचाई जाएंगी ताकि लोगों को पहले से अलर्ट किया जा सके।
    उन्होंने कहा कि पावर प्रोजेक्ट प्रबंधकों तथा डैम प्रबंधन के साथ भी आवश्यक बैठकें आयोजित करने के दिशा निर्देश दिए गए हैं इसमें आपदा की स्थिति में सायरन तथा अलर्ट सिस्टम इत्यादि की सही व्यवस्था के बारे में कारगर कदम उठाने के लिए कहा गया है ताकि आपदा की स्थिति में लोगों को सायरन या अलर्ट सिस्टम के माध्यम से सही जानकारी मिल सके। उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि खाद्य सामग्री की आवश्यक भंडारण भी सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है ताकि सड़क इत्यादि के क्षतिग्रस्त होने पर लोगों को खाद्य वस्तुओं की कमी नहीं हो।
    उन्होंने कहा कि बचाव तथा राहत टीमें भी तीस जून से पहले गठित करने के दिशा निर्देश दिए गए हैं इसके साथ मानसून के दौरान पर्वतारोहण इत्यादि भी पूर्ण तरीके से रोक रखी जाएगी। उन्होंने कहा कि मानसून की तैयारियों को लेकर नियमित तौर पर समीक्षा बैठकें आयोजित की जाएंगी। इस अवसर पर विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।