वक्फ बोर्ड के नवनियुक्त प्रशासक डॉ हनीफ कुरैशी ने मेधावी छात्रों के लिए शुरू की छात्रवृति
June 10th, 2019 | Post by :- | 824 Views
नूंह मेवात ,( लियाकत अली )  ।  हाल ही में हरियाणा वक्फ बोर्ड के प्रशासक नियुक्त किए गए डॉ हनीफ कुरैशी आई पी एस, आई जी ने मेवात इंजीनियरिंग कॉलेज नूह से इंजीनियरिंग करने का सपना देखने वाले मेधावी छात्र छात्राओं के लिए विशेष छात्रवृति को मंजूरी दी है।
बता दें कि हरियाणा वक्फ बोर्ड में मुख्य कार्यकारी अधिकारी के तौर पर पहले से  ही अपनी सेवाएं दे रहे डॉ हनीफ कुरैशी आई पी एस हाल ही में बोर्ड के प्रशासक नियुक्त किए गए हैं। डॉ कुरैशी ख़ुद एक इंजीनियर हैं, वहीं अब उन्होंने मेधावी छात्रों को विशेष छात्रवृति मंजूर करके इंजीनियर बनने को आसान कर दिया है।
डॉ हनीफ कुरैशी आई पी एस ने मेवात इंजीनियरिंग कॉलेज नूह में इंजीनियरिंग में दाखिले के लिए बारहवीं कक्षा में 80% अंक व अधिक पाने वाले छात्रों को उनकी ट्यूशन फीस में 100% छूट देने व 75% अंक पाने वाले छात्रों को उनकी ट्यूशन फीस में 75% छूट की घोषणा की है। उनके इस फैसले से ग़रीब आदमी भी इंजीनियर बनने के सपने को साकार कर सकता है।
मेवात इंजीनियरिंग कॉलेज के जनसंपर्क अधिकारी व सहायक प्रोफेसर वसीम अकरम ने बताया कि मौजूदा समय में इंजीनियरिंग कॉलेज की फीस छात्रों के लिए 39500 रूपए सालाना, व छात्राओं के लिए 19750 रूपए सालाना थी।
अब 80% से अधिक अंक पाने वाले छात्रों को उनकी ट्यूशन फीस में सौ फीसदी छूट छात्रवृति
के तौर पर मिलेगी, जिससे मेधावी छात्रों को बड़ा फायदा होगा।
वक्फ बोर्ड प्रशासक डॉ हनीफ कुरैशी आई पी एस मेवात में तालीम विशेषकर विज्ञान व तकनीकी तालीम के लिए लगातार काम कर रहे हैं। घासेड़ा स्कूल के छात्रों को कई बार वो खुद पढ़ाने पहुंच चुके हैं और शिक्षकों को 100% नतीजों के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं।
डॉ हनीफ कुरैशी आई पी एस की इस विशेष वजीफे की परियोजना का मकसद मेधावी छात्रों को तकनीकी तालीम के लिए प्रोत्साहित करने के साथ साथ मेवात सहित अन्य क्षेत्र के आर्थिक रूप से कमजोर उम्मीदवारों को आगे लाने का है।
डॉ हनीफ कुरैशी, आई पी एस कई छात्र हितैषी परियोजनाओं पर लगातार काम कर रहे हैं।
मेवात इंजीनियरिंग कॉलेज में फ़िलहाल दाखिले चल रहे हैं और 14 अगस्त तक चालू रहेंगे।