करोड़ों खर्च होने के बाद भी शहर की जनता नारकीय जीवन जीने को मजबूर। वर्षोँ से घरों के सामने भरा गन्दा पानी
May 15th, 2019 | Post by :- | 40 Views

होडल,(मधुसूदन): सरकार द्वारा सीवरेज व्यवस्था पर करोडों रुपए खर्च करने के बाद भी शहर की जनता नारकीय जीवन जीने को विवश है। जन स्वास्थ विभाग की लापरवाही के कारण सीवरेज व्यवस्था ठप पडी हुई है। जिसका खामियाजा शहर की जनता को भुगतने को मजबूर होना पड रहा है। जन स्वास्थ विभाग द्वारा सुचारू सीवरेज व्यवस्था की दुहाई दी जाती है लेकिन व्यवस्था का हाल यह है कि रोहता पटटी, घारम पटटी, गर्ल स्कूल रोड,गढिया बाजार,सब्जी मंडी,गोडोता रोड व नानक डेरी रोड पर पिछले कई वर्षों से सीवरेज का गंदा पानी सडकों पर बहता रहता है। लोगों द्वारा जब भी इस समस्या के बारे में विभागीय अधिकारियों से पूछताछ की जाती है तो उन्हें एक दूसरे विभाग की जिम्मेदारी बताकर चलता कर दिया जाता है। शिकायत के बाद भी समस्या का कोई समाधान नहीं हो रहा है। विभागीय अधिकारी सब कुछ जानते हुए भी मौन साधे हुए हैं। ऐसी ही समस्या से गर्ल स्कूल,रोहता पटटी व घारम पटटी के आसपास बनी हुई है। यहां पिछले कई वर्षों से सीवरेज का गंदा पानी घरों के सामने भरा हुआ है। पूरा दिन बदवू उठती रहती है। गंदे पानी के कारण यहां मक्खी, मच्छर और जहरीले कीडों का प्रकोप बना रहता है। लोगों को अपने घरों तक पहुंचने के लिए वाहनों का सहारा लेना पड रहा है। घरों के सामने वर्षों से भरे गंदे पानी के कारण सबसे ज्यादा परेशानी स्कूली छात्र,बुजुर्ग और महिलाओं को उठानी पड रही है। इस मामले को लेकर लोकसभा चुनावों के दौरान प्रत्याशियों के समक्ष भी पटटी के लोगों द्वारा उठाया जा चुका है लेकिन उसके बावजूद भी समस्या ज्यों कि त्यों बनी हुई है। विभागीय अधिकारी हैं कि जनप्रतिनिधियों को सब कुछ ठीक ठाक होने का भरोसा दिलाकर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं,जबकि सच्चाई शहर की स्थित स्वयं ब्यां कर रही है। शिकायत के बाद भी कोई सुनवाई नहीं कर रहे हैं। गंदे पानी की समस्या को लेकर जहां शहर की जनता पूरी तरह तृस्त हो चुकी है,वहीं विभागीय अधिकारियों ने भी जनता को राम भरोसे छोड दिया है। बस्ती के लोगों का कहना है कि अब वह इस मामले की शिकायत सीएम विंडो पर देंगे। उधर विभागीय एसडीओ अशोक कुमार का कहना था कि वार्ड पार्षद सतबीर सिंह के साथ पटटी के कुछ लोग कार्यालय पहुंचे थे। पटटी में कई जगह पर सीवरेज व्यवस्था चौक हो चुकी है। जिसके कारण गंदा पानी ओवर फिलो होकर सडक मार्ग पर भरा रहता है। नई पाईप लाईन डालने के लिए स्टीमेट तैयार किया जा रहा है। जिसके बाद पटटी में गंदे पानी निकासी की समस्या दूर हो जाएगी।