रिश्वतखोर एएसआई सोहराब खान सस्पेंड , एसपी संगीता कालिया ने लिया संज्ञान ….विडियो जरूर देखें
April 24th, 2019 | Post by :- | 2601 Views

नूंह मेवात ,( लियाकत अली )  ।  एएसआई सोहराब खान द्वारा 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए वायरल हुए वीडियो पर एसपी संगीता कालिया ने संज्ञान लेते पुलिसकर्मी के खिलाफ बड़ी कार्रवाई कर दी है। एसपी ने देर शाम एएसआई सोहराब खान को निलंबित (सस्पेंड) कर दिया। साथ ही मामले की जांच के आदेश जारी कर दिए। एसपी की इस कार्रवाई से महकमे में हड़कंप मचा हुआ है। सोमवार को एएसआई के रिश्वत लेने का वीडियो वायरल हो जाने के बाद डीएसपी ममता, डीएसपी इंद्रजीत, डीएसपी धर्मवीर ने चुप्पी साध ली, लेकिन जब मामला एसपी के पास पहुंचा तो तुरंत संज्ञान लेते कार्रवाई कर दी। वहीं रिश्वत लेने का वीडियो वायरल होने के बाद नूंह पुलिस प्रशासन का सर भी नीचे झुक गया। पुलिस के नाम व काम को रिश्वतखोर एएसआई ने पूरी तरह डूबो दिया। जानकारी के अनुसार नूंह खंड के चंदेनी गांव में दहेज के लिए सुसराल पक्ष के लोगों ने विवाहिता पर पेट्रोल डालकर जला दिया। आग में बुरी तरह झुलसी विवाहिता छह दिन तक जिंदगी और मौत से जंग लड़ती रही और सातवें दिन सोमवार को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया। वहीं बेरहम पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए पीड़ित परिवार से 1 लाख 20 हजार रुपये रिश्वत की मांग की। प्रत्येक आरोपी के खिलाफ मुकदर्मा दर्ज करने के लिए 20 हजार रुपये डिमांग रखी। पीड़ित परिवार ने अपने सहयोगी की मदद से पुलिस द्वारा रिश्वत मांगने पर पहले 9 हजार रुपए दिए और फिर 10 हजार रुपए देते हुए वीडियो बना लिया। पुलिस की रिश्वत का यह वीडियो सोशल मिडिया पर वायरल हो गई। जिसमें पुलिसकर्मी पीड़ित पक्ष से दस हजार रुपए की रिश्वत लेता साफ नजर आ रहा है। नूंह पुलिस की इस घटना पर बोलती बंद है। डीएसपी धर्मवीर सिंह,  डीएसपी ममता खरब, डीएसपी इंद्रजीत मामले पर चुप्पी साधे बैठे है। इस बारे कुछ भी नहीं बता पा रहे हैं। मेवात जिले की ताजा खबर ,,,, चेंनल को सब्सक्राइब जरूर करें। http://www.youtube.com/c/LiyakatAliMewat

सेवा सुरक्षा का दम भरने वाली पुलिस जब खुद रक्षक की जगह भक्षकों का साथ देने लगे तो न्याय की उम्मीद किससे की जा सकती है। विवाहिता पर पेट्रोल डालकर जलाने का आरोप उसके पति सहित छह लोगों पर है, लेकिन पुलिस ने केवल आरोपी पति के ही खिलाफ मामला दर्ज किया है। बता दें, कि पलवल जिले के गांव मंदपुरी निवासी सरजीना की शादी नूंह जिले के गांव चंदेनी निवासी इरसाद के साथ लगभग पांच वर्ष पूर्व हुई थी। शादी के बाद ही इरसाद व उसके परिजन सरजीना को कम दहेज लाने पर प्रताड़ित करने लगे अकसर उसके साथ मारपीट करते रहते। बीती 15 अप्रैल को सरजीना व उसके पति इरशाद के बीच कहासुनी हो गई। उसके बाद उसी दिन शाम को सरजीना चूल्हे पर खाना बना रही थी उस समय भी इरशाद ने सरजीना के साथ झगड़ा किया व मारपिटाई  की। सरजीना ने विरोध किया तो पति, इरसाद, जेठ जैकम, अलीम, ससुर सरीफ व सास बस्सी ने पेट्रोल डालकर सरजीना को जला दिया और मौके से फरार हो गए। सरजीना की चीख-पुकार सुनकर पड़ोसी मौके पर पहुंच उसके मायके वालों को फोन कर सूचना दी। सूचना मिलते ही सरजीना के मायके वाले मौके पर पहुंचे और उसे उपचार के लिए नलहड़ मेडिकल कालेज में दाखिल कराया जहां पर विवाहिता की गंभीर हालात को देखते हुए चिकित्सकों ने उसे दिल्ली सफदरजंग अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। 22 अप्रैल की सुबह सरजीना की उपचार के दौरान अस्पताल में मौत हो गई।मेवात जिले की ताजा खबर ,,,, चेंनल को सब्सक्राइब जरूर करें। http://www.youtube.com/c/LiyakatAliMewat

मेवात जिले की ताजा खबर ,,,, चेंनल को सब्सक्राइब जरूर करें। http://www.youtube.com/c/LiyakatAliMewat