हसला ने करनाल ITI परिसर में बर्बरतापूर्ण और विवेकहीन कार्यवाही की निंदा
April 13th, 2019 | Post by :- | 296 Views

कुरुक्षेत्र, लोकहित एक्सप्रेस(अनिल सैनी)। पुलिसकर्मियों द्वारा कल करनाल ITI परिसर के अंदर घुसकर कक्षाओं में बैठे 2000 के लगभग बेक़सूर छात्रों-छात्राओं और स्टाफ पर बर्बरतापूर्ण लाठी चार्ज किया गया। जिसमें अनेक छात्र-छात्राएं गंभीर रूप से घायल हुए।
हरियाणा स्कूल लेक्चरर्स एसोसिएशन (हसला) राज्यप्रधान दयानन्द दलाल,हसला प्रदेश संरक्षक बीर सिंह राणा,समस्त राज्यकार्यकरिणी,समस्त हसला जिलाध्यक्ष और सभी ब्लॉक प्रधानों ने इस बर्बरतापूर्ण और विवेकहीन कार्यवाही की कड़ी निंदा की और पुलिस की वर्दी में गुंडागर्दी करने वाले पुलिसकर्मियों पर कार्यवाही की माँग की।
हसला राज्य प्रैस सचिव अजीत चंदेलिया ने कहा कि पुलिसकर्मियों और रोडवेजकर्मियों को रोज़गार दिलाने में भी किसी न किसी अध्यापक का ही कठिन परिश्रम रहा है। उन्ही बेकसूर अध्यापकों पर ऐसी कार्यवाही शर्मनाक और निन्दनीय है। ये पुलिसकर्मी भी कभी न कभी किसी शिक्षण संस्थान के छात्र रहे होंगे। किसी शिक्षण संस्थान में घुसकर छात्रों और अध्यापक वर्ग को पीटना और राइफल तान देना निहायत ही कार्यतापूर्ण,विवेकहीन एवं निन्दनीय है। बल्कि इतना कहने भी अतिशयोक्ति नहीं होगी कि ये कार्यवाही जलियांवाला बाग कांड की याद दिलाती है।
प्रदेशभर से सरकारी शिक्षण संस्थानों के छात्रों के लिए पहले भी रोडवेज बसों की मांग अक्सर होती रही है। अतीत से ही छात्रों के लिए परिवहन व्यवस्था के हालात अच्छे नहीं कहे जा सकते। हसला माँग करती है कि सभी 22 ज़िलों में छात्रों के लिए सरकार परिवहन की उचित व्यवस्था करें। इस माँग पर सदा से ही सरकारें गूंगी और बहरी रही है।
कल जो भी हुआ बेहद दुखदायी है, छात्रों के लिए भी और प्रशासन के लिए भी। जिम्मेदार अगर है तो वो समस्या है, जिसका रोज़ाना जिंदगी से ताल्लुक है। ये सरकार से जुड़ी समस्या है, जिसका हल सरकार को तुरंत करना चाहिए।। हसला दिवंगत छात्र की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करती है और उसके परिवार को भी दुःख की इस घड़ी में सांत्वना मिले ऐसी दुआ करते है।
सरकारी शिक्षण संस्थानों के छात्रों के लिए बसों को ये समस्या लंबे समस्य से चलती आ रही है। सरकार को तुरन्त इस मामले पर संज्ञान लेकर इस समस्या का समाधान करना चाहिए और रोड़वेज विभाग को भी छात्रों की इस सवेंदना को समझना चाहिए।